'क्लीन एनर्जी' में कंपनिया लेकर आ रही हैं 38 हजार नौकरियां- आप भी जाने - Go Sarkari

Post Top Ad

Monday, 19 February 2018

'क्लीन एनर्जी' में कंपनिया लेकर आ रही हैं 38 हजार नौकरियां- आप भी जाने

'क्लीन एनर्जी' में कंपनिया लेकर आ रही हैं 38 हजार नौकरियां

यूपी सरकार प्रदेश में ऊर्जा उत्पादन के साथ-साथ रोजगार बढ़ाने की तैयारी में है । इस नई सरकार ने ऊर्जा के इस नए स्रोत को अपने एजेंडे  में खास तौर पर रखा है । अक्षय ऊर्जा के लिए इन्वेस्टर्स समिट के माध्यम से लगभग 30 से अधिक कंपनियों ने 55 हजार करोड़ रुपये के निवेश के प्रस्ताव दिए हैं |

इसमें 48 हजार के प्रस्ताव लगभग अंतिम रूप  में पहुंच चुके हैं, और इनसे लगभग 38000 बेरोजगारों को नैकरी प्राप्त होगी, इसके बारें में आपको इस पेज पर विस्तार से बता रहें है |


क्लीन एनर्जी में कम्पनियां
भारत की अक्षय ऊर्जा संबंधी योजनाएं अच्छी प्रगति कर रही हैं । सौर ऊर्जा के क्षेत्र में काम करने वाले अनेक वैश्विक और भारतीय पक्षों ने इस वर्ष भारत में अपनी बड़ी परियोजनाएं लगाने की घोषणाएं की हैं |   

उत्तर प्रदेश प्राकृतिक संसाधनों से परिपूर्ण होने के साथ-साथ बॉयोफ्यूल और सौर उर्जा की कोई कमी नहीं हैवर्तमान सरकार ने अपने एजेंडे में इस नए स्त्रोत को सम्मिलित किया है, और आगे आने वाले पांच वर्षो में 10 हजार 500 मेगावाट बिजली उत्पादन का लक्ष्य निर्धारित किया गया है,  निवेश करनें वाले लोगो को सरकार द्वारा अनेक प्रकार की छूट दी जा रही है


अक्षय ऊर्जा के लिए इन्वेस्टर्स समिट के माध्यम से लगभग 4 0 से अधिक कंपनियों ने 55 हजार करोड़ रुपये के निवेश के प्रस्ताव दिए हैं,जिसमें 48 हजार के प्रस्ताव अंतिम दौर में हैं । भारत ग्रीन और क्लीन एनर्जी को बढ़ावा देने के बारें में पेरिस क्लाइमेट समिट से वादा कर चुका है


रोजगार के साथ-साथ क्षेत्र की प्रगति  
इन्वेस्टर्स समिट में जिन क्षेत्रों में निवेश कर रहे हैं, उसमें इन्फ्रास्ट्रक्चर और आईटी-इलेक्ट्रानिक्स के बाद अक्षय ऊर्जा का क्षेत्र तीसरे नंबर पर है, और सबसे अहम् बात यह है, कि इसमें निवेश करने वाली अधिकतर कम्पनियां बड़े शहरों की अपेक्षा द्वितीय और तृतीय श्रेणी के शहरों में करना चाहती है |

इन कम्पनियों के आने से पिछड़े क्षेत्रों का विकास तीव्र गति से होगा, साथ ही रोजगार के अवसर प्राप्त होंगेअब तक अक्षय ऊर्जा से सम्बंधित सबसे अधिक प्रस्ताव बुंदेलखंड के लिए आए हैं, जिसमें सोलर पावर, कूड़ा निस्तारण से लेकर बॉयाफ्यूल तक के क्षेत्र सम्मिलित है ।


 कंपनियों को पसंद यह स्थान 
निवेश करने वाली कम्पनियों को बदायूं, झांसी, ललितपुर, बांदा, नोएडा, उन्नाव, सीतापुर, मीरजापुर, कानपुर, वाराणसी, गोरखपुर, मथुरा, लखीमपुर आदि स्थान अधिक पसंद है, जिससे इन क्षेत्रो का विकास से साथ-साथ रोजगार के क्षेत्र में काफी सुधार  होगा |


इन कंपनियों के आए प्रस्ताव
1.एमप्लस  2000 करोड़ |

2.एज्यूर पावर  6000 करोड़ |

3.इको फ्रेंडली  2140 करोड़ |

4.एस्सल ग्रुप  4000 करोड़ |

5.आईएल एंड एफएस  575 करोड़ |

6.केके नेसार  2000 करोड़ |

7.सनलाइट 1200 करोड़ |

यहाँ आपको हमनें विदेशी कम्पनियों द्वारा क्लीन एनर्जी के क्षेत्र में निवेश के बारें में बताया | यदि इससे सम्बंधित आपके मन में कोई प्रश्न आ रहा है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से व्यक्त कर सकते है | हमें आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया का इंतजार है |


ऐसे ही जानकारी जानने के लिए हमारें पोर्टल पर आप डेली विजिट करके इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो, तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें, तथा gosarkarinaukri.co.in पोर्टल को सब्सक्राइब करें |



Advertisement


No comments:

Post a Comment


Getting in Trouble - Ask Experts?